International Yoga Day

International Yoga Day

4353
0
SHARE

Ever since the unanimous declaration of celebrating June 21 as International Yoga Day by UN General Assembly, this event has become one of the most happening one in the past three years.

भारतीय प्रधान मंत्री श्री नरेंन्द्र मोदी ने 27 September 2014 को UNGA की अपनी speech के दौरान आज की दुनिया में योग की जरूरत और लाभ पर जोर देने के लिए इस दिन का जश्न मनाने का विचार प्रस्तावित किया।

Yoy all must have noticed the fervour with which the government and the people are gearing up to celebrate this day. The pleasant weather has added a dash of freshness to the event.

Let’s take this opportunity and learn something about the hero of the hour – YOGA

INDIAN ORIGIN OF YOGA

हम सभी जानते हैं की योग को ज़्यादातर भारत के साथ जोड़ा जाता है जिसका कारण यह कि योग का मौलिक आरम्भ भारत से हुआ है। योग का सबसे पहले, हिन्दूओं के सबसे पुराने ग्रंथ ऋग्वेद, में उल्लेख किया गया था।

Yoga is the 5000-year-old Indian physical, mental and spiritual practice that aims to transform body and mind.

‘योग’ शब्द को संस्कृत के शब्द ‘Yuj’ से लिया गया है जिसका अर्थ ‘to join’ या ‘to unite’ होता है।
19 वीं सदी में इस शब्द को अंग्रेजी में मान्यता मिली।

शास्त्रों के अनुसार योग व्यक्तिगत चेतना (individual Consciousness) को सार्वभौमिक चेतना (Universal Consciousness) से जोड़ता है।
यह मन और शरीर, मनुष्य और प्रकृति के बीच एक सही सामंजस्य का संकेत है।

WHY JUNE 21?

A lot of thought has been put into choosing this date to celebrate the International Yoga Day.
While proposing 21 June as the date, Indian PM Narendra Modi said that this day is considered the longest day of the year in the northern hemisphere as it’s the day of summer solstice.
मान्यता है कि summer solstice यानी उत्तरायण के दिन सूर्य, जो कि ऊर्जा का मूल स्त्रोत है, सबसे अधिक तेजस्वी होता है।
That’s why, from the perspective of Yoga, this day was appropriately chosen.

Well, It’s one day to go and we thought what would be the best way to encourage and prep our readers for the big day tomorrow?

yogaSo, here we have some famous quotes and sayings that may help to boost your Yoga Day Spirit.

“Yoga teaches us to cure what need not be endured and endure what cannot be cured.” — B.K.S. Iyengar (founder of Iyengar Yoga)
(योग हमें उन चीजों को ठीक करना सिखाता है जिसे सहा नहीं जा सकता और उन चीजों को सहना सिखाता है जिन्हे ठीक नहीं किया जा सकता।)

• “To perform every action artfully is yoga.” — Swami Kripalu
(हर क्रिया को शानदार ढंग से करना ही योग है।)

• “Yoga is a light, which once lit, will never dim. The better your practice, the brighter the flame.” — B.K.S. Iyengar
(योग एक प्रकाश है, जिसे एक बार जलाया गया तो कभी भी मंद नहीं होगा। जितने बेहतर आपका अभ्यास होगा, उतनी ही बेहतर चमक होगी।)

“Yoga is 99 percent practice and one percent theory.” — Sri Pattabhi Jois (the Mysore Ashtanga Yoga Guru)
(योग 99 प्रतिशत अभ्यास और एक प्रतिशत सिद्धांत है।)

“Yoga is the journey of self, through the self, to the self.” — Bhagwad Gita
(योग स्वयं की एक यात्रा है, स्वयं के माध्यम से स्वयं तक पहुँचने के लिए।)

• “Here and now is where yoga begins”— Yoga Sutra
(यहाँ और अब है जहां योग शुरू होता है।)

“Yoga is all about stalling the turbulence of consciousness.” — Patanjali
(योग चेतना की अशांति को दूर करने का नाम है।)

Comments

comments

डिक्शनरी प्रयोग - अक्षर द्वारा

Browse word by Alphabet

a b c d e f g h i j k l m
n o p q r s t u v w x y z