Punctuation Marks Decoded

Punctuation Marks Decoded

3421
0
SHARE

Many a time people tend to dread the punctuation rules because they simply don’t understand them.
Well, I am one of those people too.
But then, when your livelihood depends on writing, you can’t just blame the grammar and get on with your life.

जिस तरह vocabulary से हमे एक average और outstanding English speaker में अंतर पता चलता है, ठीक उसी तरह punctuation marks का सही इस्तेमाल आपकी लिखने की कौशलता का परिचय देता है।

यूँ तो हम सभी ने school में punctuation marks के बारे में पढ़ा है लेकिन आज कल की ‘social media generation’ के बीच punctuation use करने का trend कम होता जा रहा है।

It’s not only about writing correctly, a wrong use punctuation can alter the meaning of your sentence completely.

Let’s try to venture the ‘PUNCTUATION MARK’ world and decode them step by step.

आज हम सीखते हैं कुछ basic punctuation marks और उनके uses के बारे में।
image1(1)  Full stop (पूर्ण विराम/ बिंदु)

As we all know, full stop का प्रयोग एक वाक्य के खत्म होने पर किया जाता है। When you see a full stop, that’s the end of your sentence.

Generally, full stop का use ऐसे वाक्यों के अंत में किया जाता है जिनमें writer किसी प्रकार की emotion को व्यक्त नहीं कर रहा है।
Most of the times, these are just simple statements or certain facts, with no strings attached.

• I reached home early today. (मैं आज जल्दी घर पहुंच गया।)
• I need some money.(मुझे कुछ पैसों की जरूरत है।)
• He went to the market yesterday.(वह कल बाजार गया था। )

Simple, isn’t it?

  Question mark (प्रश्न चिन्ह)

Question marks का use इन जगहों पर किया जाता है:

At the end of interrogative sentences

• When will you come home? (आप घर कब आओगे?)
• Is she your sister? (क्या वो आपकी बहन है?)
• Could you help me, please? (क्या आप कृपया मेरी मदद कर सकते हैं?)
• Are you sure you want to go there? (क्या आप वाकई वहां जाना चाहते हैं?)
• What are you doing here? (तुम यहाँ पर क्या कर रहे हो?)

A statement that expresses a doubt or a feeling of surprise

• You were born in 1992? (तुम्हारा जन्म 1992 में हुआ था?)
• You think it will be okay to do this? (आपको लगता है कि ऐसा करना ठीक रहेगा?)

Exception: जब वाक्य को indirect speech में लिखा जाता है, तब वहां प्रश्न चिन्ह का प्रयोग नहीं किया जाता।
• He asked if I had seen his book. (उसने पूछा कि क्या मैंने उसकी किताब देखी है।)
• I asked her how she got my phone number. (मैंने उससे पूछा कि उसे मेरा फोन नंबर कैसे मिला। )

With question tags

• This painting is beautiful, isn’t it?(यह चित्र सुंदर है, है ना?)
• You are coming to the party, right? (आप पार्टी में आ रहे हैं, है ना?)

  Exclamation mark (विस्मयादिबोधक चिह्न)

The exclamation point is used to add some kind of emotion to a sentence.
लिखते समय अपनी भावनाओं की अभिव्यक्ति करना थोड़ा कठिन हो सकता है, इसलिए कुछ sentences में, जहाँ यह आवश्यक है की writer की emotions को ठीक से depict किया जाए, वहां exclamation mark का use करना उचित है।

It is used in the following contexts:

To add emphasis or emotion to your sentences

• DOUBT
I can’t believe it! (मुझे विश्वास नहीं हो रहा!)

• AMUSEMENT
This gift is amazing! (यह उपहार अद्भुत है!)

• DISAPPOINTMENT
Oh no! I missed the bus. (अरे नहीं! मेरी बस छूट गई।)

• PRAISE
Wow! This food is very tasty. (वाह! यह खाना बहुत ही स्वादिष्ट है।)

• SORROW
Oh! I’m sorry to hear that. (ओह! सुनकर दुख हुआ।)

Direct speech that represents something shouted or spoken very loudly

• 
‘Look up there!’ she yelled. (उसने चिल्लाकर कहा, “वहाँ देखो!”)


Well, what can I say?
Exclamation marks are quite emotional.

Don’t forget to read our blogs:
When and Where to Use A COMMA
Comma Mistakes You Should Avoid
Comma mistakes – Part 2

Learn English with fun games from our app Namaste English 

 

Comments

comments

डिक्शनरी प्रयोग - अक्षर द्वारा

Browse word by Alphabet

a b c d e f g h i j k l m
n o p q r s t u v w x y z